Saturday, March 22, 2014

मेहनती हाथ


मेहनत करनेवाले हाथ किसी के आगे क्यूँ फैले ,दिल रोता है मेहनती हाथों की ये हालत देख कर ,आज हर गली में एक ब्यूटी पार्लर आप को देखने के लिए मिल जायेगा और होगा भी भरा हुआ ,वहां हाथों की सुन्दरता बडाई जाती है ,लेकिन क्या ये हाथ बदसूरत हैं ,मुझे तो सब से ज्यादा खूबसूरत येही लगते हैं जो मेहनत करते हैं ,वो नहीं जो सिर्फ दिखावे के होते हैं ,हर तरफ सुंदरता का ,पैसे का बोला बाला है और मेहनत के हाथो का रंग काला है ,
  मेहनत भी करते हैं ये हाथ और अपनी ही मेहनत की कमाई के लिए दुसरो के आगे फैलते भी हैं ,क्या ये न्याय है ,तो मन में एक चीत्कार उठती है की नहीं ये सरासर अन्याय है ,हर तरफ देश में लूट खसोट हो रही है ,सब अपनी जेबें भर रहे हैं और ये मेहनती हाथ और मेहनत किये जा रहे हैं ,बदले में अपने परिवार का पेट भी नहीं पाल पा रहे

जरा सोचिये

ज़रा देखिये

इन हाथों को

4 comments:

  1. This comment has been removed by the author.

    ReplyDelete
  2. This comment has been removed by the author.

    ReplyDelete
  3. Replies
    1. आभार जुगल सिघ जी

      Delete